CHINTAN JAROORI HAI

जीवन का संगीत

166 Posts

979 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 14778 postid : 848148

दो आत्माओं का मिलन है ये प्यार तो बस प्यार है

Posted On: 7 Feb, 2015 कविता,Junction Forum,Special Days में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

न कोई इक़रार है और
न कोई इज़हार है
दो आत्माओं का मिलन है ये
प्यार तो बस प्यार है
……………………
मुरली में मोहन की है
मीरा के विश्वास में
राम के वनवास में
गोपियों के रास में
भ्रमर के गुंजन में है
तितलियों के राग में
नूर सा फैला है अद्भुत
लौ की हर चिराग में
गर साथ है प्रियतम तो
हर दिन बसंत बहार है
दो आत्माओं का मिलन है ये
प्यार तो बस प्यार है
…………………………….
दीप में ज्योति सा है
सीप में मोती समान
दूर होकर भी क्षितिज में
जैसे धरती चूमे आसमान
न तो कुछ खोना है न
पाने की ही चाह है
प्यार तो बस है समर्पण
मिल पाती न इसकी थाह है
जीवन की ये ही है परिणति
जीवन का ये ही है चरम
शून्य से शुरुआत है और
शून्य पर ही है खत्म
न आदि है न अंत इसका
इतना वृहद विस्तार है
दो आत्माओं का मिलन है ये
प्यार तो बस प्यार है
दीपक पाण्डेय
नैनीताल



Tags:     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

8 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Shobha के द्वारा
February 15, 2015

श्री दीपक जी नरम भावों वाली खूबसूरत कविता डॉ शोभा

    deepak pande के द्वारा
    February 17, 2015

    dhanyawaad aadarniya shobha jee

pkdubey के द्वारा
February 9, 2015

यह प्यार ही सब कुछ है आदरणीय ,राधा माधव ,सीता राम ,उमा महेश ही हमारे युगल सरकार और दसरथ -राम ,वासुदेव -कृष्ण ,राम -भरत,गोपी कृष्ण आदि -आदि सब प्यार की पराकाष्ठा के सुन्दर प्रतिरूप हैं ,सादर आभार |

    deepak pande के द्वारा
    February 11, 2015

    dhanyawaad aadarniya dbey sir

jlsingh के द्वारा
February 8, 2015

बहुत ही सुन्दर उदगार है ये तो प्यार है प्यार है! बधाई पाण्डेय जी!

    deepak pande के द्वारा
    February 8, 2015

    dhanyawaad aadarniya singh sahab

PAPI HARISHCHANDRA के द्वारा
February 7, 2015

दीपक से प्यार करके पतंगे को क्या मिलेगा यही सोच कर मोदी जी प्यार व्यार पर विश्वास नहीं करते तभी तो ओम शांति शांति करते प्रधान मंत्री बन सके |

    deepak pande के द्वारा
    February 8, 2015

    dhanyawaad aadarniya harishchandra jee


topic of the week



latest from jagran